Follow by Email

Sunday, 8 July 2012

मूरख ताके मायने / मूरखता के मायने,

मूरख ताके मायने, शब्द-कोष को खोल |
मूरखता के मायने, किन्तु सके न बोल |

किन्तु सके न बोल, तोल कर जब मुंह खोले |
जो सच्चा मासूम, हमेशा  मीठा  बोले  |

छल -प्रपंच से दूर , मदद करता बिन मांगे |
टुकुर टुकुर फिर ताक, सयाना मूरख लागे  ||



"चौपाई लिखिए" (डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

सहज सरल समझाय सलीका | चौपाई का मस्त तरीका ||
सोलह सोलह चार चरण में | अंतिम मात्रा दीर्घ वर्ण में ||


रामचरित मानस को ताका | तुलसी की लहराय पताका ||
शास्त्री जी की कक्षा कर लो | छंदों का रस दिल में भर लो ||








बलात्कार करो !...मैं हूँ न !.. मैं बचा लूंगी (क्योंकि मैं कांग्रेस हूँ )

ZEAL at ZEAL 

राहुल की हुलकी गजब, चला रेप का केस |
देते मस्त दलील हैं, जाने सारा देश |
जाने सारा देश, रेप वह कर न सकता |
होवे सारा झूठ , तेवरिया जो भी बकता  |
लड्डू रविकर बाँट, ख़ुशी से रहा नाचता |
इक शाखा का नाश, छह छक्के छत्तीस बांचता ||




3 comments:

  1. अरे मेरे पर लिख दिया वाह !
    धन्यवाद !

    ReplyDelete
  2. सयाने देश में अभी बाक़ी हैं तो सब कुछ संभाल लेंगे।

    ReplyDelete